जावा प्रोग्रामिंग क्या है ? || What is Java ?

जावा प्रोग्रामिंग क्या है ?

स्मार्टफोन 4G इंटरनेट की दौड़ में हमारे दिन की शुरुआत बिना मोबाइल के नहीं होती हम जब भी सुबह सोकर उठते हैं तो हम सबसे पहले अपने मोबाइल फोन को देखकर उठते हैं यह हमारी जिंदगी का हिस्सा बन गया है और हो भी क्यों ना हम अपना सारा काम अब मोबाइल फोन से ही तो करते हैं पहले सामान खरीदने के लिए हमें बाजार जाना होता था पैसे भेजने के लिए यह जमा कराने के लिए बैंकों में जा कर लाइन में लगना पड़ता था लेकिन अब सारे काम हम घर बैठे मोबाइल से ही कर सकते हैं लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि यह संभव हो पाया है एक उच्चस्तरीय प्रोग्रामिंग लैंग्वेज JAVA की वजह से। अगर आप computer के student हैं या राह चुके है तो आप ने java का नाम जरूर सुना होगा। अगर नही सुना तो हम हैं न आप को बताने के लिए जावा के बारे में पूरी जानकारी देने वाले ।

what is java?
what is java?

चलिए जानते हैं Java क्या होता है जावा एक Object Programming Language है जिसे high laval Language भी कहा जाता है। क्यों कि ऐसे मानो द्वारा लिखा और पढ़ा जा सकता है। Java का उपयोग कंसोल एप्लीकेशन, मोबाइल एप्लीकेशन को बनाने के लिए किया जाता है। जिसका प्रयोग वर्तमान समय में केवल कंप्यूटर में नहीं बल्कि मोबाइल फोन टेबलेट इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसेज जैसे टीवी वॉशिंग मशीन में भी किया जाता है आजकल ऑनलाइन बैंकिंग ऑनलाइन शॉपिंग ऑनलाइन फॉर्म फीचर Java लैंग्वेज की मदद से ही संभव हुआ है

वर्तमान में लगभग सभी मोबाइल कंपनी Java का सपोर्ट करते है। Google ने Java को linux के साथ जोड़ते हुए मोबाइल डिवाइसेस की नाम एक ओपन सोर्स operating system developer किया गया है। जो कि आज के समय मे काफी मशहूर हो चुका है। और लगभग सभी बड़ी कंपनियां एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म के लिए मोबाइल डिवाइस टेबलेट, स्मार्ट वाच डेबलेप करते है।

जावा लैंग्वेज फेब्रिकेशन जैसे वेबसाइट बनाने की विधि और साथ ही मोबाइल ऐप्प बनाने के लिए मदद करती है

आज के समय मे जितने वी वेब पेजेस है। वो सभी javascript पे चलते है। android device के लिए बहुत से सारे ऐसे एप्लिकेशन बनाये गए है जो कि java में लिखा गया होता है। ये एप्लिकेशन एंड्राइड के software developer kit यानी SDK का उपयोग कर के बनाये गए है।

Java का इतिहास

जावा एक कंप्यूटर बेस्ड प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है जिसे जींस ब्रोज़लीन और उनके साथ ही सन माइक्रोसिस्टम्स (Sun Microsystems) सन 1991 में विकसित किया था । इस को बनाने का मुख उद्देश्य ये था कि एक बार लिखा जाए और इस का उपयोग हर जगह पढ़ा जा सके।

मतलब लैंग्वेज को एक ही बात लिखा जाएगा और इसका उपयोग हर जगह किया जाएगा ।जेन्स ब्रोज़लीन और उनकी टीम द्वारा दिए विकशित किया गए इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जिसका नाम उन्होंने ओक (Oak) रखा था। जिस इसके बाद सन 1995 में इस का नाम बदल कर java रख दिया गया। java के टीम को ग्रीन टीम भी कहा जाता है।

Java कितने प्रकार के होते है।

जावा वास्तव में बहोत बड़ी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है।इस लिए सन Micro system ने इसे कई हिसों में विभाजित कर दिया है। ताकि जो भी प्रोग्रामर जिस कॉटेगिरी में software developer करना चाहते है उन्हें केवल उसी category की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सिख सके। java को मुख्य रूप से 3 हिसों में divide किया गया है।

1) Java Micro Edition (Java ME)
2) java Standard Edition (Java SE)
3) Java Enterprise Edition (Java EE)

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *